Hindi Post

देश-प्रेम के गीत – Desh Bhakti Song In Hindi

10 सबसे बेहतरीन देश भक्ति गाने

Patriotic Songs In Hindi - Desh Bhakti Geet
Patriotic Songs In Hindi – Desh Bhakti Geet

गीत (Song) 1

जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़ियां करती है बसेरा
जहाँ डाल-डाल पर
सोने की चिड़ियां करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा

जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का
पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा

ये धरती वो जहाँ ऋषि मुनि
जपते प्रभु नाम की माला
जहाँ हर बालक एक मोहन है
और राधा हर एक बाला
जहाँ सूरज सबसे पहले आ कर
डाले अपना फेरा
वो भारत देश है मेरा

अलबेलों की इस धरती के
त्योहार भी है अलबेले
कहीं दीवाली की जगमग है
कहीं हैं होली के मेले
जहाँ राग रंग और हँसी खुशी का
चारो और है घेरा
वो भारत देश है मेरा

जहाँ आसमान से बाते करते
मंदिर और शिवाले
जहाँ किसी नगर मे किसी द्वार पर
कोई न ताला डाले
प्रेम की बंसी जहाँ बजाता
है ये शाम सवेरा
वो भारत देश है मेरा…

गीत (Song) 2

झण्डा ऊँचा रहे हमारा
झण्डा ऊँचा रहे हमारा
विजयी विश्व तिरंगा प्यारा -२
झण्डा ऊँचा रहे हमारा

सदा शक्ति बरसानेवाला
प्रेम सुधा सरसानेवाला
वीरों को हर्षानेवाला
मात्ऱ्भूमि का तन-मन सारा -२
झण्डा ऊँचा …

स्वतन्त्रता के भीषण रण में
रख कर जोश बढ़े क्षण क्षण में
काँपे शत्रु देख कर मन में
मिट जावे भय संकट सारा -२
झण्डा ऊँचा …

इस झण्डे के नीचे निर्भय
हो स्वराज जनता का निश्चय
बोलो भारत माता की जय
स्वतन्त्रता ही ध्येय हमारा -२
झण्डा ऊँचा …

शान न इस की जाने पावे
चाहे जान भले ही जावे
विश्व विजय कर के दिखलावे
तब होवे प्रण पूर्ण हमारा -२
झण्डा ऊँचा…

गीत (Song) 3

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
आ.. हा.. आहा.. आ..

इसकी मिट्टी से बने तेरे मेरे ये बदन
इसकी धरती तेरे मेरे वास्ते गगन
इसने ही सिखाया हमको जीने का चलन
जीने का चलन..
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन

अपने इस चमन को स्वर्ग हम बनायेंगे
कोना-कोना अपने देश का सजायेंगे
जश्न होगा ज़िन्दगी का, होंगे सब मगन
होंगे सब मगन..
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन

इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन..

गीत (Song) 4

Loading...

मेरा रंग दे बसंती चोला
मेरा रंग दे..
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
निकले हैं वीर जिया ले
यूँ अपना सीना ताने
हंस-हंस के जान लुटाने
आज़ाद सवेरा लाने
मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने
तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने

मर के कैसे जीते हैं, इस दुनिया को बतलाने
तेरे लाल चलें हैं माये, अब तेरी लाज बचाने

आज़ादी का शोला बन के खून रगों में डोला
मेरा रंग दे…
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे

दिन आज तो बड़ा सुहाना
मौसम भी बड़ा सुनहरा
हम सर पे बाँध के आये
बलिदानों का ये सेहरा
बेताब हमारे दिल में इक मस्ती सी छायी है
ऐ देश अलविदा तुझको कहने की घडी आई है
महकेंगे तेरी फिज़ा में हम बन के हवा का झोंका
किस्मत वालों को मिलता ऐसे मरने का मौका

निकली है बरात सजा है इंक़लाब का डोला
मेरा रंग दे…
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला माये रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला रंग दे, रंग दे..
रंग दे बसंती चोला माये रंग दे..

मेरा रंग दे बसंती चोला, मेरा रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला ओये, रंग दे बसंती चोला
माये रंग दे बसंती चोला

दम निकले इस देश की खातिर बस इतना अरमान है
एक बार इस राह में मरना सौ जन्मों के समान है
देख के वीरों की क़ुरबानी अपना दिल भी बोला
मेरा रंग दे…

जिस चोले को पहन शिवाजी खेले अपनी जान पे
जिसे पहन झांसी की रानी मिट गई अपनी आन पे
आज उसी को पहन के निकला, पहन के निकला
आज उसी को पहन के निकला, हम मस्तों का टोला
मेरा रंग दे

गीत (Song) 5

अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकिन, सर झुका सकते नहीं

हमने सदियों में ये आज़ादी की नेमत पाई है
सैकड़ों कुर्बानियां देकर ये दौलत पाई है
मुस्कुराकर खाई है सीनों पे अपने गोलियां
कितने वीरानों से गुज़रे हैं तो जन्नत पाई है
ख़ाक में हम अपनी इज़्ज़त को मिला सकते नहीं
अपनी आज़ादी…

क्या चलेगी ज़ुल्म की अहले वफ़ा के सामने
आ नहीं सकता कोई शोला हवा के सामने
लाख फ़ौजें ले के आए अम्न का दुश्मन कोई
रुक नहीं सकता हमारी एकता के सामने
हम वो पत्थर हैं जिसे दुश्मन हिला सकते नहीं
अपनी आज़ादी…

वक़्त की आवाज़ के हम साथ चलते जाएंगे
हर क़दम पर ज़िन्दगी का रुख बदलते जाएंगे
गर वतन में भी मिलेगा कोई गद्दारे वतन
अपनी ताकत से हम उसका सर कुचलते जाएंगे
एक धोखा खा चुके हैं और खा सकते नहीं
अपनी आज़ादी…

हम वतन के नौजवां हैं हमसे जो टकराएगा
वो हमारी ठोकरों से ख़ाक में मिल जाएगा
वक़्त के तूफ़ान में बह जाएंगे ज़ुल्मों-सितम
आसमां पर ये तिरंगा उम्र भर लहराएगा
जो सबक बापू ने सिखलाया भुला सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकिन, सर झुका सकते नहीं
अपनी आज़ादी…

गीत (Song) 6

आज भारतीय जनता को इतना आदेश हमारा है,
बंद करो आपस के झगड़े तुम्हें देश गर प्यारा है।

अभी शांति से अपनी उलझनें हमें सुलझानी हैं,
अभी देश की नैया तूफानों से पार लगानी है,
है हम सब की धरती माता, भारत आंखों का तारा है।
बंद करो आपस के झगड़े तुम्हें देश गर प्यारा है।

इन झगड़ों से ही भारत में इक रोज गुलामी आई थी,
बरसों तक इस धरती पर घनघोर घटाएं छाई थीं,
बरसों के बाद बापू जी ने दिखलाया हमें किनारा है।
बंद करो आपस के झगड़े तुम्हें देश गर प्यारा है

पंचशील के आदेशों को जीवन में अपनाओ तुम,
प्रांतवाद और कौमवाद की होली मत सुलगाओ तुम,
आज भारती की आंखों से बहती अश्रु धारा है।
बंद करो आपस के झगड़े तुम्हें देश गर प्यारा है।

गीत (Song) 7

स्वतंत्र है इस देश की धरती, अब कोई नहीं गुलाम है।
सबके हक की रक्षा करना, यही हमारा काम है।
न मुंह मोड़ेंगे सेवा से, सभी बलिदान दे देंगे।
वतन की हम सिपाही हैं, वतन पर जान दे देंगे।
न मुंह मोड़ेंगे सेवा से, सभी बलिदान दे देंगे।

पहुंचना है हमें मंजिल पर, हम बढ़ते ही जाएंगे,
बढ़ा है जो कदम आगे, न हम पीछे हटाएंगे।
न मुंह मोड़ेंगे सेवा से, सभी बलिदान दे देंगे।

वतन के वास्ते हम, जान की बाजी लगा देंगे,
वतन के वास्ते हम, अपनी हस्ती मिटा देंगे।
न मुंह मोड़ेंगे सेवा से, सभी बलिदान दे देंगे।

प्रतिज्ञा आज करते हैं, ना अपनी आन छोड़ेंगे,
अगर हो मौत से सामना, हम मुख न मोड़ेगे।
न मुंह मोड़ेंगे सेवा से, सभी बलिदान दे देंगे।

गीत (Song) 8

मानवता के मन मंदिर में, ज्ञान का दीप जला दो,
करुणानिधान भगवान मेरे, भारत को स्वर्ग बना दो।

दुख दरिद्रता का नाश करो, भारती के कष्ट मिटा दो,
अमृत की बूंदें बरसा कर, भूख की आग बुझा दो।
हे कुबेर भंडारी जग में, धान की ढेर लगा दो,
करुणानिधान भगवान मेरे, भारत को स्वर्ग बना दो।

नवप्रभात से दमक उठे, मेरे भारत की फुलवारी,
सब हों एक समान जगत में, रहे न कोई भिखारी।
एक बार मां वसुंधरा को, नव श्रृंगार से सजा दो,
करुणानिधान भगवान मेरे, भारत को स्वर्ग बना दो।

गीत (Song) 9

हमें चाहिए रोटी-कपड़ा, रहने को घर-बार चाहिए।
हमें हमारे बापू का सर्वोदय साकार चाहिए,
नहीं चाहिए हमें लड़ाई, हमें विश्व का प्यार चाहिए
हमें हमारे बापू का सर्वोदय साकार चाहिए….

जिनकी काया त्याग और बलिदान के पथ पर चलती हो,
जिनके दिल में देश-प्रेम की ज्योति जगमग जलती हो,
हमें उन्हीं के हाथों में भारत की पतवार चाहिए।
हमें हमारे बापू का सर्वोदय साकार चाहिए…

दूर करो उन देशद्रोहियों को, जो हमें भड़काते हैं,
अपने स्वार्थ के लिए देश के सुख में आग लगाते हैं,
हमें न उनसे सरोकार है, हमें न उनका प्यार चाहिए,
हमें हमारे बापू का सर्वोदय साकार चाहिए…

गीत (Song) 10

जय-जय भारत देश हमारा, जय-जय भारत देश…
आज शांति का दुनिया को देता है संदेश।
जय-जय भारत देश हमारा, जय-जय भारत देश…

हुए यहां पर बालक नेता,
लव-कुश जैसे वीर विजेता।
मौत से टक्कर लेने वाले,
ध्रुव, प्रह्लाद, श्रवण, नचिकेता।
नौनिहाल से अमर शहीदों का यह प्यारा देश।
जय-जय भारत देश हमारा, जय-जय भारत देश…

राम, कृष्ण, गौतम, गांधी ने,
इस धरती पर जन्म लिया।
वीर भारत के पराक्रमों से,
भरत भूमि इसे नाम दिया।
इस धरती के बालक दे गए, जग को नव आदेश।
जय-जय भारत देश हमारा, जय-जय भारत देश…

सीता, तारा, सावित्री-सी,
वीर हमारी माता।
जिन-जिन के इतिहास अमर हैं,
उनसे हमारा नाता।
सदियों से यह देश जगत को देता सत् उपदेश।
जय-जय भारत देश हमारा, जय-जय भारत देश…

इसे भी पढ़े :

डॉ. भीमराव अंबेडकर पर कविता 
राष्ट्रभाषा हिंदी पर सुन्दर कविता
शिक्षक दिवस पर बेहतरीन कविता
तिरंगे झंडे पर कविता 
महिला दिवस पर बेहतरीन कविता
बसंत पंचमी के उल्लास पर कविता
स्वामी विवेकानंद पर कविता
गाँधी जयन्ती पर 3 बेहतरीन कविता
पर्यावरण पर दो उत्कृष्ट पर कविता
बेटी पढाओं पर उत्कृष्ट मार्मिक कविता
मेरा देश पर कुछ सुन्दर कविताएं
जल के महत्व पर सुन्दर कविता
राष्ट्रभाषा पर कविता

आप हमें अपना सुझाव और अनुभव बताते हैं तो हमारी टीम को बेहद ख़ुशी होती है। क्योंकि इस ब्लॉग के आधार आप हैं। आशा है कि यहाँ दी गई Patriotic Songs आपको पसंद आई होगी, लेकिन ये हमें तभी मालूम होगा जब हमें आप कमेंट्स कर बताएंगें। आप अपने सुझाव को इस लिंक Facebook Page के जरिये भी हमसे साझा कर सकते है। और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं। धन्यवाद!

 FREE e – book “ पैसे का पेड़ कैसे लगाए ” [Click Here]

Babita Singh
Hello everyone! Welcome to Khayalrakhe.com. हमारे Blog पर हमेशा उच्च गुणवत्ता वाला पोस्ट लिखा जाता है जो मेरी और मेरी टीम के गहन अध्ययन और विचार के बाद हमारे पाठकों तक पहुँचाता है, जिससे यह Blog कई वर्षों से सभी वर्ग के पाठकों को प्रेरणा दे रहा है लेकिन हमारे लिए इस मुकाम तक पहुँचना कभी आसान नहीं था. इसके पीछे...Read more.

Leave a Reply

Your email address will not be published.