Hindi Post

झंडे पर कविता (Poem on Our National Flag in Hindi)

झंडे पर कविता (Poem on Our National Flag in Hindi)

 Poem on Our National Flag in Hindi
Poem on Our National Flag in Hindi

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा।
सदा शक्ति सरसाने वाला
प्रेम-सुधा बरसाने वाला
वीरों को हरसाने वाला
मातृभूमि का तन-मन सारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 1।
लाल रंग बजरंगबली का
हरा अहल इस्लाम अली का
श्वेत सभी धर्मों का टीका
एक हुआ रंग न्यारा-न्यारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 2।
है चरखे का चित्र सँवारा
मानो चक्र सुदर्शन प्यारा
हरे रंग का संकट सारा
है यह सच्चा भाव हमारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 3।
स्वतन्त्रता के भीषण रण में
लखकर बढ़े जोश क्षण-क्षण में
काँपे शत्रु देखकर मन में
मिट जाये भय संकट सारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 4।
इस झण्डे के नीचे निर्भय
लें स्वराज्य हम अविचल निश्चय
बोलो भारत माता की जय
स्वतन्त्रता हो ध्येय हमारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 5।
आओ प्यारे वीरो आओ
देश-धर्म पर बलि-बलि जाओ
एक साथ सब मिल कर गाओ
प्यारा भारत देश हमारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 6।
शान न इसकी जाने पाये
चाहें जान भले ही जाये
विश्व विजय कर के दिखलायें
तब होवे प्रण पूर्ण हमारा,
झण्डा ऊँचा रहे हमारा। 7।

“विजयी विश्व तिरंगा प्यारा, झण्डा ऊँचा रहे हमारा” नामक उक्त सुविख्यात झण्डा गीत को 1938 के कांग्रेस अधिवेशन में स्वीकार किया गया था। इस गीत की रचना करने वाले श्यामलाल गुप्त ‘पार्षद’ कानपुर में नरवल के रहने वाले थे। उनका जन्म 16 सितंबर 1893 को वैश्य परिवार में हुआ था।

2

ले धानी रूप धरती का,
सुख सम्पन्नता दिखलाता है।
त्याग का रंग है केसरिया,
जो देना सिखलाता है।
पवित्रता का श्वेत रंग है,
जो पारदर्शिता सिखलाता है।
चक्र जीवन की, गति सा है,
जो नित बढ़ना सिखलाता है।

यह झंडा है, तिरंगा है,
हिमालय है, और गंगा है।
धड़कते दिल धड़कन है,
सभी की जाँ तिरंगा।

मेरा ईमान तिरंगा है,
मेरी पहचान तिरंगा है।
मेरे प्राणों से भी पहले,
मुझे प्यारा तिरंगा है।

इसे भी पढ़े :

डॉ. भीमराव अंबेडकर पर कविता 
राष्ट्रभाषा हिंदी पर सुन्दर कविता
शिक्षक दिवस पर बेहतरीन कविता
मनमोहक बाल कविता एवं गीत
महिला दिवस पर बेहतरीन कविता
बसंत पंचमी के उल्लास पर कविता
स्वामी विवेकानंद पर कविता
गाँधी जयन्ती पर 3 बेहतरीन कविता
पर्यावरण पर दो उत्कृष्ट पर कविता
बेटी पढाओं पर उत्कृष्ट मार्मिक कविता
मेरा देश पर कुछ सुन्दर कविताएं
जल के महत्व पर सुन्दर कविता
राष्ट्रभाषा पर कविता

दोस्तों ! अब मैं अपनी लेखनी को यहीं विराम देती हूँ । उम्मीद है ये कवितायेँ आपके लिए जरुर प्रेरणास्रोत साबित होगें । और गर आपको इनमें कोई त्रुटी नजर आयी हो या इससे संबंधित कोई सुझाव हो तो वो भी आमंत्रित हैं। आप अपने सुझाव को इस लिंक Facebook Page Facebook Page के जरिये भी हमसे साझा कर सकते है। और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं। धन्यवाद!

 FREE e – book “ पैसे का पेड़ कैसे लगाए ” [Click Here]

Babita Singh
Hello everyone! Welcome to Khayalrakhe.com. हमारे Blog पर हमेशा उच्च गुणवत्ता वाला पोस्ट लिखा जाता है जो मेरी और मेरी टीम के गहन अध्ययन और विचार के बाद हमारे पाठकों तक पहुँचाता है, जिससे यह Blog कई वर्षों से सभी वर्ग के पाठकों को प्रेरणा दे रहा है लेकिन हमारे लिए इस मुकाम तक पहुँचना कभी आसान नहीं था. इसके पीछे...Read more.

Leave a Reply

Your email address will not be published.