Health Hindi Post

जल और उस का उपयोग पर निबंध (Short Essay on Importance of Water In Hindi)

जल का महत्व एवं उपयोगिता | Importance of Water Essay in Hindi | Find Here Very Short & Long Essay on Importance & Use of Water in hindi, अनुच्छेद for class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12

Importance & Use of Water In Hindi
Importance & Use of Water In Hindi

जल का उपयोग : Use of Water in Hindi – Essay on Importance of Water in Hindi

Importance of Water in Hindi – इस धरती पर सबसे बहुमूल्य रत्न जल है जो प्रकृति के द्वारा मानवता के लिए अनमोल उपहार है, जल की वजह से ही इस धरती पर जीवन संभव है । जल के बिना जीवन की कल्पना भी मुश्किल है या यूं कहें कि यही पृथ्वी पर सम्पूर्ण जीव एवं वनस्पति जगत के जीवन का आधार है । इसलिए हम सभी को जल का महत्व या उपयोगिता को जानना और समझना चाहिए और उसके संरक्षण का प्रयास करना चाहिए।

तुलनात्मक रूप से हवा के बाद जल मानव जीवन के लिए दूसरा सबसे महत्वपूर्ण व उपयोगी पदार्थ है। जल के बिना धरती पर जीवन-यापन प्राणि मात्र के लिए असम्भव है। हवा तथा जल के बाद तीसरा अहम पदार्थ भोजन है। लेकिन भोजन के बिना मनुष्य एक महीने या कुछ और अधिक दिनों तक जीवित रह सकता है, परन्तु जल के बिना नहीं। अत: जल ही जीवन है। यह कहावत सत्य है। जल के बिना जीवन की कल्पना नहीं की जा सकती।  

पृथ्वी पर जल का अपार भंडार हैं। पृथ्वी का 2/3 भाग जल से घिरा है, जोकि मुख्यत: नदियों तथा समुन्दरों के रूप में है लेकिन अफसोसनाक बात यह कि समुद्र का पानी खारा या नमकीन होता है और खारा पानी शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा जो पेयजल उपलब्ध है उसे मानव जाति कभी जानबूझकर तो कभी अनजाने में अशुद्ध व जहरीला बना दे रहा है और जहरीला पानी प्यास तो बुझाता है लेकिन यह हमारे शरीर को कई रोग से ग्रस्त कर देता है। 

मानव शरीर में 3/4 भाग जल होता है। जरा सोचिए यदि हमारे शरीर में 3/4 भाग अशुद्ध अथवा जहरीला जल होगा तो स्वास्थ्य पर कितना बूरा प्रभाव पड़ेगा ही। हैजा, टायफाइड, पेचिश आदि रोग अशुद्ध जल के सेवन से ही होता है। जबकि ईश्वर ने हमें प्रकृति के रूप में इतनी उदारता दे रखी है कि वह जल के शुद्धिकरण में सहायता करती है व अपने स्वरुप से जल को शुद्ध करके हमें प्रदान करती है।

अत: दोस्तों ! प्रकृति की इस अनमोल संपदा को सहेजने की आवश्यकता है तभी हम वर्तमान जल संकट की समस्या से निजात पा सके। और हमारी भावी पीढ़ी भी जल संकट के लिए हमें नहीं कोसेगी।बीज हर्गिज बरगद का पेड़ नहीं होता, यद्यपि सम्भावी रूप से बीज में समाविष्ट होता है। इसी प्रकार आशा करती हूँ कि इस संक्षिप्त निबंध से जल के महत्व तथा उपयोगिता के बारें में बता संकू ताकि सभी लोग मिलकर जल के संरक्षण का प्रयास कर सके।

जल के महत्व पर 10 वाक्य (10 Lines on Importance of Water in Hindi)

जल का हमारे शरीर के लिए महत्व 

जल का हमारे शरीर के लिए निम्नलिखित महत्व है –

(1) जल हमारे शरीर के संचालन में योगदान देने वाली सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है। पानी हमारे शरीर की मेटाबॉलिज्म क्रियायों में सहयोग करता है। यह हमारे शरीर से हानिकारक रसायनों को बाहर निकालता है।

(2) जल शरीर में चयापचय के बाद बने विकार को मूत्र या पसीना के माध्यम से बाहर निकालने में सहायता करता है। पसीने के द्वारा शरीर की गन्दगी तो निकलती ही है साथ ही शरीर का तापक्रम भी नियन्त्रित होता है।

(3) जल रक्त को तरल बनाता है तथा उसके परिवहन में सहायता करता है। तथा उसमें गति को नियन्त्रित करता है।

(4) जल अमाशय में भोजन के मिश्रण को घोल के रूप में बनाता है। आंतों में उसके सुपचित होने के पश्चात्, पाचन के बाद रसों को बनाने व तरल करने तथा आंतों में अवशोषण का काम करता है और अन्त में बड़ी आंत से मल को बाहर निकालने का महत्वपूर्ण कार्य भी करता है।

(5) त्वचा को कोमल व चिकना बनाता है।

(6) जल शरीर में उत्पन्न कई रासायनिक पदार्थों को घुलने में शरीर में उनकी समुचित प्रक्रिया में तथा उनके अवशेष निष्कृष्टों को शरीर से बाहर निकालने में सहायता करता है।

(7) यदि रक्त के अनुपातिक घनत्व, तरलता और गति में थोड़ा भी असन्तुलन हो जाए तो उसके भयंकर परिणाम हो सकते हैं। जब रक्त जल की कमी से गहरा हो जाता है तो वह पर्याप्त मात्रा में हृदय में नहीं पहुँचता जिससे मृत्यु हो जाता है।

(8) पीने के अतिरिक्त मनुष्य को प्रतिदिन अनेक दैनिक कामों में जल की आवश्यकता होती है। जैसे भोजन बनाने, बर्तन धोने व साफ करने के लिए, स्नान करने, कपड़े धोने, घर व शौचालय की सफाई हेतु, घर में बागवानी में भी पानी की आवश्यकता होती है।

(9) गर्मी के दिनों में जल की अधिक आवश्यकता होती है, खेतीबाड़ी, बाग-बगीचे जल की सहायता से ही पनपते हैं।

(10) सार्वजनिक शौचालय तथा अन्य स्थानों की सफाई व स्वच्छता के लिए पानी की आवश्यकता होती है।

(11) विभिन्न उद्योगों में जल की आवश्यकता होती है।

(12) आज के युग में जल द्वारा बड़े स्तर पर विद्युत पैदा की जाती है। अत: विद्युत शक्ति व वाष्पशक्ति उत्पन्न करके कारखाने व रेलें चलाई जाती हैं। नदी, तालाब, कुँए, समुद्र आदि का महत्व जल के कारण ही है। परन्तु गर्मियों में पानी का संकट बहुत अधिक बढ़ जाता है। अत: आज से ही बूंद बूंद पानी बचाना सीखे।

 FREE e – book “ पैसे का पेड़ कैसे लगाए ” [Click Here]

“जल ही जीवन है” ब्यूटीफुल कविता Click Here

जल है तो कल है पर तीन प्रेरक कविता Click Here 

Loading...

बिन पानी सब सून निबंध Click Here

स्वच्छता अभियान पर कविता और नारे Click Here

स्वच्छता पर प्रेरक कहानी Click Here

जल का महत्व व उपयोग पर निबंध – Water Essay In Hindi के इस प्रेरणादायी लेख के साथ हम चाहते है कि हमारे Facebook Page को भी पसंद करे | और हाँ यदि future posts सीधे अपने inbox में पाना चाहते है तो इसके लिए आप हमारी email subscription भी ले सकते है जो बिलकुल मुफ्त है |

Babita Singh
Hello everyone! Welcome to Khayalrakhe.com. हमारे Blog पर हमेशा उच्च गुणवत्ता वाला पोस्ट लिखा जाता है जो मेरी और मेरी टीम के गहन अध्ययन और विचार के बाद हमारे पाठकों तक पहुँचाता है, जिससे यह Blog कई वर्षों से सभी वर्ग के पाठकों को प्रेरणा दे रहा है लेकिन हमारे लिए इस मुकाम तक पहुँचना कभी आसान नहीं था. इसके पीछे...Read more.

Leave a Reply

Your email address will not be published.