Health Hindi Post

पुदीने के फायदे – Benefits of Mint leave in Hindi 

पुदीने के उपयोग व फायदे (Pudine Ke Fayde in Hindi)

Pudine (mint) Ke Fayde in Hindi
Pudine Ke Fayde in Hindi

Pudine Ke Fayde in Hindi : पुदीना  mentha arvensis (वैज्ञानिक नाम) एक हाइब्रिड पौधा और बेहद लाभकारी औषधि है जो यूरोप और मध्य पूर्व में व्यापक रूप से फैला हुआ है और दुनिया के कई क्षेत्रों में इसकी खेती की जाती है। यह कभी-कभी अपनी मूल प्रजातियों के साथ जंगल में पाया जाता है | पुदीना में किसी भी भोजन की तुलना में उच्च एंटीऑक्सिडेंट क्षमता है |

पुदीना मुख्य आहार नहीं है लेकिन स्वास्थ्य लाभ, सुगंध, सौंदर्य ये गुण एक साथ पुदीने के पौधे में ही देखे जाते हैं | पुदीना के पौधे की उम्र भी बहुत लम्बी होती है | पुदीना के सुगंधित पत्ते या उनके द्वारा प्राप्त आवश्यक तेल भोजन, चुइंग – गम, कैंडी, टूथपेस्ट और माउथवाश का स्वाद बढ़ाने के लिए अति लोकप्रिय है | परन्तु सबसे ज्यादा यह अपने औषधीय गुणों के कारण प्रसिद्द है | औषधि के रूप में पुदीना अपच के उपचार, जोड़ों में दर्द, दस्त, खाँसी, dysmenorrhea and fever को दूर करने लाभकारी है | पुदीने की पत्तियों का औषधि के रूप में बड़ा फायदा होने के कारण पुदीना प्रकृति का उत्तम खजाना कहलाता है |

लेकिन आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी ने लोगों का ध्यान पुदीना से हटा दिया है | अब पुदीने को लोग सीधा – साधा डॉक्टरी इलाज की वजह से आजमाना पसंद नहीं करते है | आज व्यक्ति ने भले ही पुदीने का इस्तेमाल करना कम कर दिया हो लेकिन पुदीने के फायदे आज भी वही हैं जो बहुत सालों पहले थे | अपने चमत्कारिक गुणों की वजह से ही पुदीने को जड़ी – बूटी की भी संज्ञा दी गई है | आइये आज यहां हम पुदीना के गुण,  पुदीना के स्वास्थ्य लाभ और पुदीना के उपयोग के बारे में बात करते हैं |

घर में लगाने से पुदीना की पत्तियों के फायदे – Benefits of Mint leave in Hindi 

पुदीने में जल 85 प्रतिशत होता है | कैल्शियम, फास्फोरस तथा लौह – तत्व की प्राप्ति का यह अच्छा साधन है | इसमें विटामिन ए भी बहुत अधिक होता है जो कि कैरोटिन के रूप में उपस्थित रहता है | इसके अलावा पुदीने में प्रोटीन व विटामिन सी भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है | गर्मियों में सेहत संबंधी समस्याओं में पुदीने के फायदे प्रकृति का एक अनोखा वरदान है |

Loading...

पुदीना का पौधा यदि आप अपने घर के किचेन गार्डेन में लगा ले, तो पुदीने के पत्तों के अचूक फायदों  का लाभ घर पर आसानी से पा सकते हैं। घर पर होने से जहाँ ताजे पुदीने की चटनी, जलजीरा, शरबत आदि का लाभ मिल सकता हैं वही आप गर्मी में होने वाली अनेक सेहत से संबंधित समस्याओं का इलाज करने में इसका इस्तेमाल कर सकते है |

पाचन के लिए पुदीना के स्वास्थ्य लाभ – Health Benefits of Mint for Digestion

पुदीना पाचन से सम्बन्धित सभी विकारों को दूर करने में काफी फायदेमंद होता है | इसे आप घरेलू उपचार के तौर पर भी आसानी से इस्तेमाल कर सकते है | पुदीने में मौजूद पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट अपच की समस्या, मिचली और पेट में जलन की समस्या होने पर आराम पहुँचाता है | यह भोजन पचाने में सहायक लार ग्रंथियों को उत्तेजित करता है जिससे पेट ठीक रहता है | हैजा होने पर भी पुदीने का इस्तेमाल किया जाता है |

पुदीना पेट की कृमी को खत्म करने तथा पेट दर्द में आराम दिलाने में फायदेमंद

पुदीने के रस से पेट के कृमी भी नष्ट हो जाते है | पुदीने का चूर्ण को गुनगुने पानी में मिलाकर सेवन करने से पेट दर्द में आराम मिलता है | चूर्ण बनाने के लिए भूना हुआ जीरा, सौठ, काली मिर्च, लहसुन, काला नमक, धनिया और पुदीने की पत्तियों को सामान मात्रा में ले, और फिर उसका सेवन करें |

चहरे के दाग धब्बे दूर करने में पुदीना के लाभ – Benefits of mint in removing face stains

ताजे पुदीने का रस, चहरे के दाग धब्बों को दूर कर त्वचा को कांति प्रदान करने में बहुत ही उपयोगी होता है | रस के अलावा आप पुदीने से बना लेप भी लगा सकते है | लेप बनाने के लिए आप 6-7 पुदीने की पत्तियों लेकर उसे अंडे के सफ़ेद भाग में झाग आने तक मिला ले |  तात[पश्चात् आधा चम्मच पिसा हुआ खीर भी मिला ले | अब इस मिश्रण को चेहरे पर लगा कर 15 मिनट बाद धो लें | दाद व खुजली होने पर प्रभावित स्थान पर पुदीने का रस को लगाने से लाभ मिलता है |

खांसी व जुखाम में पुदीना का फायदा : The benefits of mint in cough and cold

ताजे पुदीने के रस से सर्दी – खांसी के प्रकोप का भी उपचार संभव है | पुदीने में मौजूद एंटी-इफ्लामेंट्री और एंटी-बैक्टीरियल तत्व श्वास नली को ठंडक देने का काम करता है जिससे सर्दी – खांसी से आराम मिलता है | सर्दी – खांसी से छुटकारा पाने के लिए गरम पानी में पुदीने के रस की कुछ बुंदे मिलाकर भाप ले | पुदीने की पत्तियों को चबाने से मुंह के गुर्गंध से भी छुटकारा मिलता है |

लू से बचाव में पुदीना सहायक

गर्मी में लू से बचने के लिए पुदीने का पना इस्तेमाल करना लाभदायक होता है | पुदीने का पना बनाने के लिए इसकी पत्तियों को थोड़ा पानी के साथ मिलाकर पीस ले | अब एक महीन कपड़े से छान कर इसका रस निकाल लें | इस रस में भूना जीरा व नमक मिलाकर पीने से लू से आराम मिलता है |

कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में पुदीना सहायक – Mint assistant to reduce cholesterol levels

पुदीने में मौजूद फाइबर, कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद करता है और इसमें पाया जाने वाला मैग्नीशियम हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है |

उल्टी – दस्त व जी मिचलाने की समस्या को दूर करता है

उल्टी, जी मिचलाने या कै होने पर पुदीने का अर्क बहुत फयदा पहुंचता है | दस्त में भी पुदीने के सेवन से आराम मिलता है |

उपर्युक्त पुदीने के फायदे के अलावा यह बालों को स्वस्थ्य रखने व वजन को कम करने में भी मददगार होता है | अगर मुंह से बदबू आती है तो पुदीने की कुछ पत्तियों को चबा लेने से मुंह की बदबू दूर हो जाती है |

पुदीने के फायदे  in Hindi के इस प्रेरणादायी लेख के साथ हम चाहते है कि हमारे  Facebook Page को भी पसंद करे | और हाँ यदि future posts सीधे अपने inbox में पाना चाहते है तो इसके लिए आप हमारी email subscription भी ले सकते है जो बिलकुल मुफ्त है |

Loading...

CLICK HERE : Amazon Today's Deal of the Day - जल्दी करे मौका कहीं छूट न जाए

2 thoughts on “पुदीने के फायदे – Benefits of Mint leave in Hindi ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *