Hindi Poem on Water
Hindi Post Kavita

पानी पर कविता “जल ही जीवन है” (Hindi Poem on Water)

पानी पर कविता (Poem on (Jal) Water in Hindi)

Poem on Water in Hindi : धरती पर सबसे बहुमूल्य रत्न जल है जो प्रकृति के द्वारा मानवता के लिए अनमोल उपहार है | जल की वजह से ही धरती पर जीवन संभव है | इसलिए हम सभी को पानी के महत्व को जानना और उसके संरक्षण का प्रयास करना चाहिए | आइये इस कविता के माध्यम से जानते है कि साफ पानी हमारे लिए कितना मूल्यवान है :

पानी के महत्व पर कविता “जल ही जीवन है”

Hindi Poem on Water
Hindi Poem on Water

जल, पृथ्वी पर है सबसे अनमोल रत्न

इसके बगैर कुछ नहीं कर सकते यत्न

सब कुछ करता सब कुछ भरता

Loading...

धरती पर जीवन इसी में चलता

अब हम इसका कर रहे दुरुपयोग

जिसके कारण जग रहे हैं, कई नए रोग

धरती के नीचे से खींच रहें हैं,

अंधाधुंध पानी,

जिससे धरती नीचे हो रही बेजानी

पानी का सदा करों सदुपयोग

आए न सूखा न कोई रोग,

रोको यह जल रोहन अभियान

वरना बिना मौत के गवाओगे अपनी जान

सब मिलकर करे ऐसा प्रयास जिससे

जल दोहन संकट की समझ में आए

सबकी बात,

व्यर्थ न फेंके जल की एक भी बूंद

सुधारे गलती व अपनी भूल

हम न सुधरे या न सुधरे समाज

तो प्यासे ही गँवाएंगे अपनी जान

सोच – समझकर करे प्रयास मिल सारे

जो न समझे उसको करो वारे न्यारे

करें प्रतिज्ञा व्यर्थ न फेंकेगे जल की एक बूंद

तभी होगी संकट सबके मिलने से दूर |

जरुर पढ़े : जल पर सुविचार, स्लोगन और कविता

Loading...

*********************************************************************************************

पानी पर कविता “जल का महत्व”(Hindi Poem on Water)

*********************************************************************************************

Motivational Slogans & Poem on "Save Water"
Motivational Slogans & Poem on “Save Water”

कभी जल की महत्ता को,

“बयाँ” हम कर नहीं सकते |

बिना पानी के जीवन में,

हम रह नहीं सकते ||

बचाये नीर की हर बूंद को,

हम साथ में मिलकर ||

भूखे रह नहीं सकते,

पियासे रह नहीं सकते ||

कभी जल की महत्ता को,

“बयाँ” हम कर नहीं सकते |

*********************************************************************************************

पानी पर कविता (Poem on (Jal) Water in Hindi)

*********************************************************************************************

प्राणों की रक्षा के खातिर,

याद रखे हर बार |

बचायें पानी की जलधार,

यही है जीवन का आधार ||

इसका दूसरा हल भी नहीं है,

इसके बिना तो कल भी नहीं है |

ये है प्यासे की दरकार,

बचायें पानी की जलधार ||

न करे प्रदूषित नीर कभी,

न तो व्यर्थ बहाये |

तब पिये सकल परिवार,

बचाये पानी की जलधार ||

वाह्य स्वच्छता तन की रहेगी,

अंतर्मन भी मुदित रहेगा |

लगेगा खुशियों का अम्बार,

बचाये पानी की जलधार ||

बूंद – बूंद को मोती समझे,

दिल माँ की तरह प्यार |

सब मिलकर करे ललकार,

बचायें पानी की जलधार ||

*********************************************************************************************

सम्बंधित लेख (Related Post)

जरुर पढ़े : जल पर सुविचार, स्लोगन और कविता

जरुर पढ़े : स्वच्छता अभियान पर कविता, Quotes और नारे

जरुर पढ़े : स्वच्छता पर प्रेरक कहानी

निवदेन Friends अगर आपको ‘हिंदी कविता जल ही जीवन है (Poem on Water in Hindi Language) ‘ पर यह अच्छी लगी हो तो हमारे Facebook Page को जरुर like करे और  इस post को share करे | और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

Loading...
Copy

CLICK HERE : Amazon Today's Deal of the Day - जल्दी करे मौका कहीं छूट न जाए

3 thoughts on “पानी पर कविता “जल ही जीवन है” (Hindi Poem on Water)”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *