Hindi Essay on Internet kya hai
Hindi Post Nibandh Nibandh Aur Bhashan

Internet Essay in Hindi (इंटरनेट पर विस्तृत निबंध)

इंटरनेट पर विस्तृत निबंध / इन्टरनेट एस्से (Find Essay on Importance & Usability of Internet in Hindi Language For Students)

इंटरनेट पर निबंध : वर्तमान समय में अगर संचार का कोई सर्वश्रेष्ठ नवीनतम तरीका है तो वह है नेटवर्कों का नेटवर्क इंटरनेट | Internet का अविष्कार आधुनिक और उच्च सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक बहुत बड़ी उपलब्धि है |

Internet ने विश्व भर में जैसा क्रांतिकारी परिवर्तन किया है, वैसा अब तक अन्य किसी तकनीक ने नहीं किया |आज इंटरनेट दुनिया भर में अपना पंख फैला चुका है और अब मानो इसके बिना जीवन की कल्पना ही नहीं की जा सकती |

 Essay on Internet in Hindi
Essay on Internet in Hindi

इंटरनेट क्या है ? (What Is Internet in Hindi) 

इंटरनेट आई. टी. के क्षेत्र में क्रांति लाने वाला विश्व का सबसे बलशाली और सबसे बड़ा नेटवर्क है | इसे संक्षिप्त में नेट भी कहा जाता है क्योंकि इंटरनेट एक दूसरे से जुड़े बहुत सारे कम्प्यूटरों का जाल है जो कि उपग्रहों, केबल तंतु प्रणालियों, LAN, और VAN प्रणालियों तथा टेलीफोनों के जरिए सम्पूर्ण विश्व के करोड़ों कम्प्यूटर्स एवं उपनेटवर्क्स को आपस में जोड़ता है | 

दूसरे शब्दों में कहे तो संसाधनों की sharing अथवा सूचनाओं का आदान प्रदान के लिए TCP/IP Protocol के द्वारा दो अथवा कई कम्प्यूटर्स को एक साथ जोड़कर अंत:सम्बन्ध स्थापित करने की प्रक्रिया को इंटरनेट कहते है तथा इनके बीच की sharing  प्रकिया को कंप्यूटर नेटवर्क्स कहते है | कंप्यूटर नेटवर्क्स के अनेकों रूप हैं, जिनमें से कुछ प्रमुख है LAN, Internet एवं इंट्रानेट |

इंटरनेट का इतिहास एवं आविष्कार (Short History Of Internet in Hindi)

दरअसल, इन्टरनेट अपनेआप में कोई आविष्कार नहीं है | वह तो टेलीफोन, कंप्यूटर व दूसरी तकनीक को इस्तेमाल कर के बनाया गया एक ऐसा जाल है, जिसमें सूचना व तकनीक का साझा उपयोग किया गया है |

इसे सबसे पहले सन 1969 में अमेरिका के प्रतिरक्षा विभाग द्वारा एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी नेटवर्क नाम गुप्त आंकड़ों और सूचनाओं को दूर दराज के विभिन्न राज्यों तक भेजने व प्राप्त करने में लाया गया |

कंप्यूटर का विकास होने के बाद उन में जमा आंकड़ों और सूचनाओं के आदान – प्रदान की आवश्यकता अनुभव की गई और इसी अनुभव ने विभिन्न विश्वविद्यालयों, सरकार द्वारा प्रायोजित computer Network तथा शोध व शिक्षा के लिए इन्टरनेट का विकास किया |

धीरे – धीरे इंटरनेट के विकास के साथ इसके फायदे व महत्व हर क्षेत्र में दिखाई पड़ने लगे और यह तकनीक पूरी दुनिया में इंटरनेट क्रांति के रूप में फ़ैल गया | जिसके परिणाम स्वरूप संपूर्ण विश्व में करोड़ो कम्प्यूटर्स एवं उपनेटवर्क्स उदित हुआ और आज इंटरनेट ने मेरुदंड की भांति www को सहारा दिया हुआ है | वर्तमान दौर में इंटरनेट एक वैश्विक संवृति अथवा सूचना सुपर हाईवे है |

इंटरनेट से सम्बद्धता के स्तर (Internet Connectivity in Hindi)

इंटरनेट को देखने और उससे सूचना एकत्रित करने के कार्य को सर्फिंग (Surfing) कहते है | वैसे तो सर्फिंग करने का तरीका कठिन नहीं है परन्तु सूचनाएँ इंटरनेट पर प्रविष्ट करने लिए सॉफ्टवेयर बनाने की आवश्यकता होती है लेकिन सॉफ्टवेयर बनाना काफी कठिन कार्य है |

इंटरनेट की स्वयं की अपनी एक दुनिया है और इस दुनिया से सम्बद्धता (Connectivity) करने के तीन स्तर होते हैं |

प्रथम स्तर पर उपभोक्ता केवल इंटरनेट पर सूचनाएं या जानकारी देख सकता है |

द्वितीय स्तर पर उपभोक्ता इंटरनेट का एक आंशिक भाग बन जाता है और सूचनायें एकत्रित करने के अलावा वह अपना वेबसाइट भी बना सकता है |

तृतीय स्तर पर उपभोक्ता स्वयं इंटरनेट प्रणाली का मुख्य हिस्सा बन जाता है |

Internet Service Provider (ISP) 

इंटरनेट सर्विसेज प्रोवाइडर (ISP) उसको कहा जाता है जो व्यक्ति या व्यवसाय इंटरनेट सेवाये प्रदान करता है | 1986 में भारत में एक ही आई. एस. पी. था जिसे हम बी. एस. एन. एल. के नाम से जानते है | बी. एस. एन. एल. अप्रैल 1986 में आरंभ किया गया था तथा भारत में यही एकमात्र आई. एस. पी. था |

वर्तमान समय में करीब 157 इंटरनेट प्रदाता कंपनियां है जिसमें Airtel, Tikona, सत्यम, Vodafone, Telenor India आदि अपने मुख्य मार्ग (Gateways) बना चुकी है तथा ग्राहकों को इंटरनेट सेवायें दे रही है | इसके अलावा सरकारी उपक्रम महानगर टेलिफोन निगम लिमिटेड (MTNL) भी सस्ते दर पर इंटरनेट सेवायें उपलब्ध करवा रहा है |

चूंकि इंटरनेट किसी व्यक्ति विशेष या राष्ट्र की बपौती नहीं है इसलिए समय के साथ इसका विस्फोटक विकास रहा और पहले की अपेक्षा  इसका आर्किटेक्चर भी बहुत हद तक परिवर्तित हो गया है | मौजूदा दौर में हर आदमी तक इंटरनेट की आसान पहुँच की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार से है –

–> इंटरनेट से जुड़ने के लिए कम्प्यूटर को ISP (Internet Service Provider) से कनेक्ट किया जाता है जिससे यूजर इंटरनेट एक्सेस अथवा कनेक्टिविटी क्रय करता है | इससे कम्प्यूटर को इंटरनेट पर उपलब्ध अन्य एक्सेबिल होस्ट से पैकेट्स एक्सचेंज करने का अवसर प्राप्त होता है |

–> इंटरनेट एक्सेस के अनेकों रूप हैं, उनमें अन्तर उनकी बैण्ड बिथ की उपलब्धि के आधार पर किया जा सकता है एवं उसकी लागत है, परन्तु सबसे महत्वपूर्ण घटक उसकी कनेक्टिविटी है |

–> इंटरनेट हमारे घरों में उपलब्ध फोन लाइन के माध्यम से ISP (Internet Service Provider) को कनेक्ट करने का सामान्य साधन है, इस मामले में फोन कंपनी हमारी ISP होती है |

Loading...

–> ISP नेटवर्क क्षेत्रीय, राष्ट्रीय अथवा अंतर्राष्ट्रीय हो सकता है | तथापि इंटरनेट से जुड़ने के कुछ अन्य लोकप्रिय माध्यम और भी है |

डिजिटल सब्सक्राइबर लाइन [ Digital Subscriber Line (DSL) ]

हमारी घरों को आने वाली टेलीफोन लाइन का पुन: प्रयोग डिजिटल डाटा संचरण के लिए किया जा सकता है | कम्पयूट को DSL मॉडेम से कनेक्ट कर दिया जाता है जो डिजिटल पैकेट्स एवं एनालोग सिग्नल के मध्य कन्वर्ट करता है जो टेलीफोन लाइन पर निर्बाध संचरित होती है |

मॉडेम शब्द मॉड्यूलर डेमोडलेटर का संक्षिप्त रूप है | यह एक प्रकार की ऐसी डिवाइस है जो डिजिटल बिट्स एवं एनालॉग सिग्नल के मध्य कंवर्जन करती है |

 इंटरनेट के गुण (Quality Of Internet In Hindi)

इंटरनेट के कुछ विशेष गुणों में शामिल है :

–> इंटरनेट की कोई केंद्रीय कंप्यूटर प्रणाली अथवा दूरसंचार केंद्र नहीं है | इसके स्थान पर इन्टरनेट पर भेजे गए प्रत्येक संदेश का यूनिक एड्रेस कोड होता है जिससे नेटवर्क का कोई भी इंटरनेट सर्वर उसको उसके गंतव्य तक अग्रसित कर सकता है |

–> इंटरनेट का कोई मुख्य कार्यालय अथवा प्रशासन निकाय नहीं है |

–> इंटरनेट तीव्रता से विकास कर रहा है |

इंटरनेट पर निबंध
इंटरनेट पर निबंध

इंटरनेट का उपयोग (Usability of Internet in Hindi) 

इंटरनेट की सफलता की वजह इसकी विशेषता और उपयोगिता है | इसका अथाह ज्ञान, सूचना, जानकारी इसके संचालन के उपयोग को और अधिक बढ़ा देता है | इसकी इसी विशेषता के कारण उपयोगकर्ताओं की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है | आज विभिन्न प्रभावी माध्यम के रूप में इंटरनेट का प्रयोग किया जाता है :

–> इलेक्ट्रॉनिक मेल (E-Mail), www पर साइट ब्राउजिंग और विशेष रूचि के न्यूज समूहों में सहभागी बन सकते है

–> ग्राहकों एवं पूर्तिकर्ताओं के मध्य इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स (E-Com) के लेनदेन व ऑनलाइन वेब एप्लीकेशन किए जा सकते है 

–> ई – विवेचना फोरम एवं हजारों विशेष रूचि न्यूज समूहों द्वारा बुलेटिन बोर्ड सिस्टम का निर्माण एवं प्रबंधन किया जा सकता है 

–> सॉफ्टवेयर डाउनलोडिंग, इन्फोर्मेशन फाइल्स और हजारों व्यावसायिक, सरकारी एवं अन्य संगठनों द्वारा प्रस्तुत डाटाबेस को एक्सेस कर सकते है 

–> इंटरनेट यूजर के साथ रीयल टाइम वार्तालाप 

–> इंटरनेट द्वारा सर्च इंजिन एवं वेब ब्राउजिंग के द्वारा सूचनाओं को संग्रहित कर सकते है 

–> इंटरनेट ब्राउजर सॉफ्टवेयर द्वारा करोड़ो यूजर्स को www को सर्फिंग (WWW Surfing) करने का अवसर व्यावसायिक,संचालित हाइपरलिंक पैकेज में संग्रहित सूचना संसाधनों तक पहुँच, मल्टीमीडिया मार्ग को एक क्लिकिंग मात्र पर सुविधा उपलब्ध करा सकता है 

–> इलेक्ट्रॉनिक मेल (E-Mail) इलेक्ट्रॉनिक कॉमर्स (E-Com), वैब संरचना (Web Design) जैसी कई सुविधाओं का लाभ उठा सकते है |

इंटरनेट के लाभ और हानि (Internet Ke Labh Aur Hani in Hindi)

इंटरनेट पर निबंध
इंटरनेट पर निबंध

इंटरनेट की उपलब्धता जितनी फायदेमंद है उतनी ही नुकसानदायक भी क्योंकि इंटरनेट की सहायता से जहाँ सर्च इंजन के द्वारा कई महत्वपूर्ण जानकारी कुछ सेकेंडो और मिनटों में मिल जाती है वही दूसरी ओर कुछ पोर्नोग्राफी साइट भी है जहाँ लोगों को अश्लीलता परोसे जा रहे है जिनसे बच्चो और युवाओं को गलत और अनुपयोगी जानकारी मिल रही है और जिनसे यूजर के भ्रमित होने के चांस बढ़ जाते है तथा उनके नैतिक मूल्यों का पतन होने लगता है |

पिछले कुछ वर्षों के आकड़ों पर नजर डाले तो अश्लीलता को तेजी से बढाने में internet की इस तरह की साइटो का अच्छा खासा योगदान रहा है |  इसमे युवा ही नहीं बल्कि बच्चे भी लीन हो रहें है | यह स्थिति कही न कही अपराध व बुराई को भी बढ़ावा दे रही है |

दुनिया भर के करोड़ों बच्चें इंटरनेट का इस्तेमाल करते है | लेकिन बच्चें internet पर क्या देख रहे है यह आजकल के मां – बाप के लिए एक समस्या बन गया है और इसकी वजह है बच्चों का अजनबियों से चैटिंग (बातचीत) करना, porn sites देखना और cyber fraud का शिकार होना |

इंटरनेट की मदद से दुनिया में कही से भी किसी से भी ऑनलाइन बातचीत करना बहुत ही सरल और आसान हो गया है लेकिन जब बेमतलब संचार करने की लत लग जाती है तो समय बर्बाद होता है और साथ ही अधिक देर तक कंप्यूटर सिस्टम पर काम करने से स्वास्थ्य पर दुष्प्रभाव पड़ता है |

इन्टरनेट के जरिए ऑनलाइन पढाई, शॉपिंग, बिजनेस आदि की सुविधाएं प्राप्त कर सकते है लेकिन इंटरनेट से जुड़ने पर कंप्यूटर में computer virus के प्रवेश करने के chance बढ़ जाते है और गोपनीय दस्तावेज़ चोरी हो सकते है |

इंटरनेट का महत्व / Importance Of Internet

इंटरनेट मनुष्य को विज्ञान का दिया सर्वश्रेष्ठ उपहार है | सही अर्थों में सारी दुनिया को एक मंच पर लाने का श्रेय इंटरनेट को ही जाता है | यह अनंत सम्भावनाओं का साधन है | इतना ही नहीं सूचना प्रसारण के इस तेज दौर में दिन प्रतिदिन इंटरनेट की उपयोगिता और महत्ता बढती ही जा रही है |

आज के समय में कोई भी व्यक्ति, देश अथवा समाज ऐसा नहीं है जो सूचना प्रौद्योगिकी के इस अद्भुत भूजाल (इंटरनेट) से अछूता रह पाया है |

वास्तव में इंटरनेट एक सार्वजनिक सुविधा है और कोई भी इसका उपयोग कर सकता है | कोई भी कंपनियां तथा संस्थान इंटरनेट के माध्यम से जानकारियां अपने सदस्यों / कर्मचारियों तथा संस्थान से बाहर के लोगों तक पहुंचा सकती है |

सरकारी और व्यावसायिक उपक्रमों में इंटरनेट महत्वपूर्ण तो है ही साथ इंटरनेट की सबसे अच्छी सुविधाओं में से एक है दुनिया में किसी के साथ लगभग तुरन्त संवाद करने की क्षमता का होना और तो और इंटरनेट द्वारा बैंक खाते प्रबंधित किए जा सकते हैं, अपने बिलों का भुगतान कर सकते है ऑनलाइन खरीदारी कर सकते है टीवी देख सकते हैं नए कौशल सीख सकते हैं या ये कहे कि लगभग कुछ भी ऑनलाइन सीख सकते हैं या कर सकते हैं |

आज मानवों की सफलता में इंटरनेट के योगदान को नकारा नहीं जा सकता क्योंकि कही न कही यह कार्यकुशलता, सूचना एवं व्यवसाय का पर्याय बन चूका है |

मौजूदा दौर में इंटरनेट की खोज ने लोगों की सफलता में क्रांति ला दी है | इसके उपयोग और महत्व को देखते हुए यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आगे आने वाले समय में सूचना प्रौद्योगिकी के इस विश्वव्यापी क्षेत्र से काफी लाभ मिलने की प्रबल संभावनाएं है और इसलिए ही इस तकनीक को इंटरनेट क्रांति की दुनिया कहा जाता है |

निवदेन – Friends अगर आपको ‘ Internet par vistrit hindi nibandh (essay) पर यह लेख अच्छा लगा हो तो हमारे Facebook Page को जरुर like करे और  इस post को share करे | और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

Babita Singh
Hello everyone! Welcome to Khayalrakhe.com. हमारे Blog पर हमेशा उच्च गुणवत्ता वाला पोस्ट लिखा जाता है जो मेरी और मेरी टीम के गहन अध्ययन और विचार के बाद हमारे पाठकों तक पहुँचाता है, जिससे यह Blog कई वर्षों से सभी वर्ग के पाठकों को प्रेरणा दे रहा है लेकिन हमारे लिए इस मुकाम तक पहुँचना कभी आसान नहीं था. इसके पीछे...Read more.

27 thoughts on “Internet Essay in Hindi (इंटरनेट पर विस्तृत निबंध)

  1. I think the admin of this web page is truly working hard in favor of her web site, as here every stuff is quality based information, it’s very useful information for a new beginner website user, And Do you want to work from home and freelance?. Learn digital marketing classes in Jaipur for absolute beginners, students, businessmen, and do to work from home and freelance.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *