Hindi Post Nibandh Nibandh Aur Bhashan विविध

गर्मी की छुट्टियों में क्या करें बच्चें कि हो उनकी प्रतिभा का विकास

गर्मी की छुट्टियों में बच्चे क्या करें (Garmi ki Chhutti me Bacho ko Kya Karna Chahiye)

गर्मी की छुट्टियों का इंतजार सभी बच्चों को रहता है और हो भी क्यों न ? बच्चों के लिए तो छुट्टियों का मतलब ही अपनी मर्जी से वक्त गुजारना, दिन भर टीवी देखना या फिर वीडियो गेम खेलना होता है। जिससे उनका पूरा रूटीन ही बिगड़ जाता है। लेकिन ऐसी स्थिति में एक मां के लिए छुट्टियों के दौरान बच्चों को व्यस्त रखना काफी मुश्किल काम हो जाता है क्योंकि बच्चा भरपूर मस्ती के मूड में रहता है और उसे हर घंटे मनोरंजन का नया साधन चाहिए होता है।

कई माँ – बाप तो बच्चों की शरारतों से बचने के लिए उन्हें तरह – तरह के hobby class में डाल देते है। ऐसे में बच्चों को लगता है कि माँ – बाप ने उनके फुरसत और सुकून यानि गर्मी की छुट्टियों का सारा पल ही छीन लिया।

अगर आप अपने बच्चे की गर्मी की छुट्टियों का मजा किरकिरा नहीं करना चाहते और उन्हें  टीवी, कंप्यूटर और विडीयो गेम की लत से भी बचाना चाहते हैं तो आपको ही गर्मी की छुट्टियों को मजेदार बनाने के लिए अपनी ओर से कुछ अतिरिक्त प्रयास करने होंगे।

आमतौर पर बच्चों को गर्मी की छुट्टियों का आनन्द उनको अपनी रूचि का काम करने से आता है। लेकिन अकसर माँ – बाप गर्मी की छुट्टियों में स्कूली पढाई के पीछे ही पड़े रहते है। आप यह सोचे कि जिस तरह रोजमर्रा के काम से उबकर आपका मन कुछ अलग करने का होता है और ऐसा करके आप आनंदित ही होते है। यही बात बच्चों पर भी लागू होता है। 

रोजमर्रा का कामों से हटकर कुछ अलग करने में मजा तो आता है लिकिन यह सोच बच्चों पर पूर्णत: लागू नहीं किया जा सकता। अगर आप यह सोचते है कि बच्चों को कुछ अलग करने की लिए दे दिया तो वह ख़ुशी – ख़ुशी कर देंगे तो आप की यह सोच गलत है।

जरुर पढ़ेHealth Insurance जो बचाए इलाज का खर्चा

जरुर पढ़े : परीक्षा की तैयारी करने के 18 आसान टिप्स

बच्चे को कोई काम करने के लिए सिर्फ आदेश देने से बात नहीं बनेगी। आपको भी उसके साथ ढेर सारी मेहनत करनी होगी। बच्चे को कुछ नया सिखाना है तो आप को भी थोड़ा क्रिएटिव बनना होगा। अगर आप थोड़ी किएटिव हो जाएं तो आपकी यह मुश्किल फटाफट दूर हो जायेगी। तो आईये जानते है कुछ ऐसे तरीको के बारें में जो आपके छोटो की गर्मी की छुट्टियों को मजेदार बनाने में मदद करेगा।

बच्चों को गर्मी की छुट्टियों का आनन्द के लिए अपनाएं ये टिप्स (Baccho ki garmiyo ki chutti ko banaye mazadar)

बच्चें को गार्डनिंग सिखाएं  

बच्चें हो बड़े गार्डनिंग करना सभी के लिए बेहद खुशनुमा अहसास होता है हम हर पल प्रकृति से कुछ न कुछ सीखते हैंतो इन छुट्टियों का फायदा उठाकर आप भी अपने बच्चें को प्रकृति के साथ जुड़ने व कुछ नया सीखने का मौका दें

गर्मी की छुट्टियों को ऐसे बनाएं मजेदार

सबसे पहले आप बच्चे को पौधा लगाना और उसकी देखभाल करना सीखाएं इससे यह फायदा होगा कि जब वह रोज अपने द्वार लगाये हुए पौधे को बड़ा होते देखेगा तो वह जीवन के बहुत से सबक जैसे जिम्मेदारी, पर्यावरण संरक्षण आदि अपने आप सीखेगा बच्चों के हाथों से कुछ फल देने वाले पेड़ भी लगवाएं आप पाएंगे कि धीरे-धीरे गार्डनिंग आप के बच्चे की हॉबी बन जायेगी और वह पर्यावरण को हरा-भरा रखने का महत्व भी समझ जायेगा

बच्चे के लिए तैराकी एक बेहतरीन व्यायाम

इस बार गर्मी की छुट्टियों में बच्चों को तैराकी क्लास जरुर जॉइन करवाएं क्योंकि तैराकी बच्चों के लिए मस्ती के साथ – साथ एक बेहतरीन व्यायाम भी है बच्चों के लिए तैराकी के अनेक फायदे हैं , इससे शरीर का एक्सरसाइज हो जाता है तथा शारीरिक व मानसिक विकास भी सही प्रकार से होता है

बच्चें की प्रतिभा का विकास

तैयारी क्लास के दौरान सीखे गए पाठ से बच्चा आपातकालीन स्थिति में खुद की रक्षा करना सीख पाता है इसके साथ ही गर्मी में तैराकी करने से वह मानसिक रूप से भी ताजगी भरा महसूस करता है

Also Read : अच्छे स्पर्श और खराब स्पर्श के बारे बच्चो को कैसे बताए

जरुर पढ़े : इस साफ सफाई को कभी मत करिए नजरअंदाज

कागज और क्ले के खिलौने बनाना सिखाकर उनकी रचनात्मकता को बढाएं

आप बच्चें को रंगीन कागज व क्ले के खिलौने बनाना सिखाएं और उसकी रचनात्मकता को बढाएं। चाहे तो आप शुरुआत कागज व क्ले के हवाई जहाज, गुड़िया कोई पक्षी व जानवर बनाना सिखाने से कर सकती है। यदि आप का बच्चा यह सब काम खुद करना सिख जाएगा तो स्कूल के क्राफ्ट असाइनमेंट के लिए आपको ज्यादा चिंता नहीं करनी पड़ेगी। वह अपनी मेहनत से क्लास में बेहतरीन प्रदर्शन करेगा।

थोड़ा सैर-सपाटा भी है जरूरी

गर्मी की छुट्टियों में बच्चें को सिर्फ घर में बंद करके रखना समझदारी भरा काम नहीं। उसे बाहर ले जाए | नई-नई  जगहें घुमाएं और नई – नई चीजों के बारे में बताएं। छुट्टियों में बच्चों को चिड़िया घर व म्यूजियम लेकर जाना एक अच्छा विकल्प है। इस तरह के सैर – सपाटे से बच्चे को विज्ञान व इतिहास के बारे में जानकारी मिलती है जो पढाई में उसके काम आती है। दूसरा, बच्चा अपने अनुभव के आधार पर जिन चीजों को सीखेगा वह ज्ञान जिंदगी भर उसके साथ रहेगा और उसे जिंदगी में आगे बढनें का रास्ता दिखाएगा। 

जरुर पढ़े : चायवाली Uppma Virdi की success story

जरुर पढ़े : संगठन की शक्ति – सबसे शक्तिशाली हथियार

बच्चों के साथ गेम खेले 

बच्चों के पसंद की एक गिफ्ट लें उसे घर में कहीं छीपा दें और बच्चे के साथ खजाना तलाशो वाला गेम खेलें। उसके लिए अलग – अलग जगह पर एक पर्ची में कुछ संकेत भी छोड़ दें। संकेत के रूप में कोई पहेली लिखें ताकि उसे सुलझा कर वह अपने गिफ्ट तक पहुच सके। इस तरह आप खेल – खेल में बच्चे का मानसिक विकास कर सकती हैं। उसमे समस्या का समाधान ढुढने की शक्ति विकसित होगी और किसी एक लक्ष्य को निर्धारित कर उस तक पहुंचने की हर मुमकिन कोशिश करने की समझ आएगी। इतनी मेहनत के बाद जब उसे कोई तोहफा मिलेगा तो उसे बस्तु की अहमियत भी समझ आएगी। 

दोस्तों के साथ डांस पार्टी का इंतजाम 

बच्चे के दोस्तों को बुलाकर एक छोटी सी डांस पार्टी का इंतजाम करें। बच्चों के खाने पीने के लिए कोल्ड ड्रिंक या कुछ स्नैक्स रख सकती हैं। उनकी पसंद का गाना लगाए और उन्हें भरपूर मस्ती करने दें। 

गर्मी की छुट्टियों का सदुपयोग

इस तरह मौज मस्ती के साथ उनकी शारीरिक सक्रियता भी बढ जाएगी। साथ उसका आत्मविश्वास भी बढेगा। हो सकता है कि किसी खास डांस में उसकी रुचि के बारे में आप भी पता लगा पाएं और उसे विशेष ट्रेनिंग भी दिलवा पाएं। 

जरुर पढ़े : लू लगने पर क्या करे

जरुर पढ़े : कश्मीर की घाटी से उपजा सोना

हॉबी को निखारें

बच्चों की हॉबी निखारनें के लिए दोपहर का वक्त अच्छा रहेगा क्योंकि दोपहर में गर्मी बहुत ज्यादा बढ़ जाती है इसलिए इस वक्त घर के बाहर की कोई एक्टिविटी संभव नहीं। यदि आप के बच्चे को गाने या कोई वाद्ययंत्र बजाने या डांस का शौक है तो दोपहर में उसके इस शौक को निखारने में मदद करें। 

बच्चों को गर्मी की छुट्टियों का आनन्द

नक्शा बनाना सिखाएं 

एक बड़े कागज पर आयताकार आकृति बना दें। अब बच्चे को उस पर अपने घर के आस – पास की जगहों का नक्शा बनाने के लिए कहे | ऐसा करने से बच्चे का दिमाग तेज होगा। उसमे किसी भी जगह और बस्तु को बहुत अलग तरह से बारीकी से देखनें की सोच विकसित होगी। हो सकता है पहली बार वह नक्शा ठीक से न बना पाए लेकिन धीरे – धीरे अपनी आस – पास की जगहों और चीजों को देखनें का उसका नजरिया बदल जाएगा।

ऐसे और भी बहुत से काम है जो गर्मी की छुट्टियों में बच्चों से कराये जा सकते है। ऐसे कमों से बच्चों की जिंदगी को सहज व सरल बनाने में मदद मिलती है और साथ ही बच्चे का खुद पर आत्मविश्वास भी बढ़ता है। इन कार्यों से बच्चे का शारीरिक और मानसिक विकास होता है तथा अपनी जिम्मेदारी का भी एहसास होता है। आप इतना करके तो देखिए आप के लाड़ले की गर्मी की छुट्टी सिर्फ मजेदार ही नहीं बल्कि यादगार भी बन जाएगी।

निवदेन – Friends अगर आपको गर्मी की छुट्टियों पर यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं।

23 thoughts on “गर्मी की छुट्टियों में क्या करें बच्चें कि हो उनकी प्रतिभा का विकास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *