Hindi Post विविध

Sacha pyar kya hota hai aur sacha pyar kaise pata chalta hai (True love in Hindi)

Sacha pyar kya hota hai, सच्चा प्यार किसे कहते है, सच्चे प्यार को कैसे पहचाने, सच्चा प्यार कैसे पता चलता है, feeling (nishani) of true love in hindi, और what is love इन अभी सवालों का जवाब (answer) आज यहाँ इस लेख में बहुत ही सरल और साधारण शब्दों में परिभाषित करके बताएंगे : 

सच्चा प्यार किसे कहते है / What is true love in hindi

सच्चा प्यार एक एहसास है | सच्चा प्यार कुदरत का दिया हुआ एक ऐसा नायाब तोहफा है जिसे शब्दों में बाधा नहीं जा सकता | यह एक वरदान है जो जीवन में उमंग और उल्लास के हर रंग भर देता है | यकीनन प्यार करने वाले अपने प्यार की आंखों में ही जिंदगी के सारे रंग देख लेते है | वह उसमें ही कायनात की सारी खूबसूरती तलाश लेते है |

True love in Hindi
True love in Hindi

सच्चा प्यार एक ऐसा पवित्र रिश्ता है, एक ऐसी सौगात है जिसके बारे में जितना कहा जाए कम है | प्यार के मायने हर उम्र में हर किसी के लिए भले ही अलग – अलग हो सकते है पर प्यार तो प्यार ही होता है | 

सच्चे प्यार को कैसे पहचाने (sacha pyar ko kaise pahchane)

सच्चा प्यार हर उम्र के इंसान के जीवन में अहमियत रखता है क्योंकि प्यार जिंदगी है | सच्चा प्यार एक संजीवनी बूटी की तरह है जो रिश्ते को जिंदा रखती है | प्यार के बिना दुनिया अधूरी है | प्यार समर्पण का दूसरा नाम है लेकिन तभी तक जब तक आप सही मायने में किसी से प्यार करते हों | 

True lover वही है जो प्यार को देय समझे क्योंकि प्यार देय है और प्यार में देना ही पाना होता है | जो व्यक्ति प्यार के इस मर्म को समझ लेता है सही मायने में वही प्यार का मतलब समझ पाता है और यही सच्चे प्यार की पहचान है |

लेकिन बदलते वक्त के साथ हर समाज में परिवर्तन होता है और यही परिवर्तन आज प्यार में भी देखने को मिलता है | प्यार की जिस नुमाइश को पहले फूहड समझा जाता था आजकल वह सौंदर्य माना जाता है | पहले जो बातें अश्लीलता की श्रेणी में आती थी आज वह बातें मान्य है और social sites पर खुलेआम share किए जाते है |

True love in Hindi
True love in Hindi

आज के ज्यादातर युवा सोचते है कि वे प्रेम में डूबे है लेकिन क्या वह सच में प्रेम में डूबे होते है या महज उसके मोहपास में | आज के युवा प्रेम को अपने पास रखना चाहते है चाहे इसके लिए कुछ भी क्यों न करना पड़े | लेकिन शायद उन्हें यह नहीं मालूम कि जहां मैं और मेरा शुरू हो जाता है वहां डर, इर्ष्या, भय, घबराहट और चिंता भी शुरू हो जाता है |

यह सभी चीजें मिलकर कब प्रेम की हत्या कर देती है पता नहीं चलता | आज का युवा वर्ग जिंदगी को भले ही अलग नजरिए से देख रहा हो लेकिन यह भी सच है कि प्यार हथेली पर रखे पारे की तरह है | यदि आप प्यार को पाना चाहते है तो आपको हथेली खुली रखनी होगी अन्यथा हथेली बंद करने पर प्यार भी पारे की तरह निकल जायेगा |

प्यार का मतलब लेना नहीं बल्कि देना होता है

खलील जिब्रान ने कहा है – आप किसी से प्रेम करते हैं तो उसे जाने दें क्योंकि वह लौटता है, तो आपका है और यदि नहीं आता तो फिर आपका था ही नहीं |

सच्चा प्यार भावनाओं और विचारों का निचोड़ होता है | प्यार जीवन के सौंदर्य को पहचानना होता है | प्यार में स्वंत्रता होती है विश्वास होता है | सच्चा प्यार में न कोई कसम होती है न कोई शर्त होती है | प्यार किसी चीज का मोहताज नहीं होता है | सही मायने में सच्चा प्यार का मतलब लेना नहीं बल्कि देना होता है |

सच्चे प्यार की निशानियाँ ( Sachcha pyar ki nishani)

–> जिसके पास होने से पूरे दिन की थकान आप भूल जाए |

–> जिसकी गोदी में सर रखने मात्र से मन हल्का हो जाए |

Loading...

–> सुबह उठते ही आप की आंखे जिसका दीदार करना चाहे |

–> लाख कोशिशों के बाद भी जिसे भूला न पाए |

–> कोशिश करने के बाद भी जिससे नफरत न कर पाए |

इस पूरे लेख को पढ़ने के दौरान आपके मन में जिस चेहरें का ख्याल आए वही है आपका सच्चा प्यार, आपकी जिंदगी, आपका वैलेंटाइन |

जरुर पढ़ेदिल छू लेने वाली प्यार भरी शायरी

जरुर पढ़े :   Dating (पहली  मुलाकात) क्या होती है ?

जरुर पढ़े : कुछ बढ़िया Dating Tips जो आपकी उनसे पहली मुलाकात को बनाएगी खास

निवदेन Friends आशा है आपको “Sacha Pyar/ True love in hindi” पर यह लेख जरुर अच्छा लगा होगा | इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

Loading...
Copy

50 thoughts on “Sacha pyar kya hota hai aur sacha pyar kaise pata chalta hai (True love in Hindi)”

  1. M aaj tak samjah nhi saka pyar kya hota h ,,ek ladki ne Kabhi mjhse Dil se pyar ki thi use mere paise se koi MATLAB nhi tha wo bas mnjse pyar krti thi Mera care krti thi par ab wo mjhse pyar nhi krti to mjhe abhi tak samjah nhi aya pyar khatam kyu ho gya uska kyu ki usne to bas mjhse pyar ki thi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *