tips for getting success in hindi
Hindi Post

Safalta Ke Tips In Hindi : मात्र 4 सूत्र जीवन में सफलता हासिल करने के

मात्र 4 सूत्र जीवन में सफलता हासिल करने के :  Safalta Ke Tips In Hindi

Safalta Ke Tips In Hindi
Safalta Ke Tips In Hindi

दोस्तों जीवन में सफल होने के लिए हर कोई खुद से कुछ वादें करता है,  कुछ संकल्प लेता है तो कुछ बदलावों को गले लगाने की बात भी करता है लेकिन क्या यह सब इतना आसान होता है जितना कि कहना ? नहीं, दरअसल सच्चाई तो यह है कि हर किसी के लिए बदलावों को स्वीकार करना आसान नहीं होता है |

क्योंकि जिसे जीवन में बार – बार हार मिली हो, जिसके सपनों और इच्छाओं ने दम तोडा हो उसके लिए फिर से सफलता के सपने देखना बड़ा मुश्किल होता है |

लेकिन कहते है कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती है | इसलिए कई बार गिरकर उठने का साहस करने की एक कोशिश जिंदगी बदल देती है पर सफलता के लिए यह कोशिश आपको खुद ही करनी होगी और इसके लिए आपको सफलता के बस चार नियमों को अपनाना होगा |

सफलता के 4 नियम (Safalta Ke Niyam)

सफलता का पहला नियम

आज हर कोई बहुत जल्दी सफल होना चाहता है लेकिन जिंदगी हमारे हिसाब से तो नहीं चलती है जबकि बाधाएं भी कदम – कदम पर रास्ता रोके बैठी होती है | कभी कभी तो ऐसा लगता है कि सब कुछ थम सा गया है और सूझता ही नहीं कि क्या करें ? हम इतना खुद को हारा हुआ महसूस करते है कि लगता है मानों जिंदगी ही खत्म हो गई |

पर क्या नाकामयाब होने के बाद अपना मुँह छुपा लेना, गुमनामी की चादर ओढ़ लेना, लोगों से भागना, कतराना, नजरें चुराना सही है जो आमतौर पर लोग करते है जी नहीं बल्कि ऐसा करने के वजाय हार मिलने की स्थिति में आपका मन रोने का करें तो रो लें, चिल्लाने का मन करें तो चिल्ला लें लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि रो लिए तो सब सही हो गया बल्कि इसके बाद आप खुद को सम्भालें और फिर से शुरुआत करें लेकिन शुरुआत जरुर करें |

इस शुरुआत को सफलता का मूलमंत्र कहिए या नियम पर यही शुरुआत आपकी सफलता की ओर बढ़ने वाला पहला कदम है क्योंकि बीते कल में जाकर आप एक नई शुरुआत नहीं कर सकते है पर आज एक कदम बढाकर आप शानदार अंजाम के रूप में सफलता तक जरुर पहुंच सकते है |

सफलता का दूसरा नियम

हम जैसा सोचते है, वैसा ही जीते है इसलिए मुश्किलों के आने पर गलत सोच जहाँ हाथ खड़े कर लेती है वही सही सोच हार से भी जीत का सबक सीख लेती है | प्रसिद्द वैज्ञानिक एल्बर्ट आइस्टीन कहते है,

 ‘कमजोर सोच कमजोर व्यक्तित्व का कारण बन जाती है’ |

इसलिए हार के प्रति आपकी सोच एवं नजरिया बहुत मायने रखती है और यही वजह है कि  कुछ लोग जिंदगी में अचानक मिली हार से डर जाते है तो कुछ लोग ऐसे होते है जो बार – बार मिली हार से डर जाते है |

हम यह नहीं कह रहें कि डरना नहीं चाहिए क्योंकि डर तो लगता ही है लेकिन अगर आप असफलता को सहजता से लें तो मैं कहूंगी कि डर के आगे जीत है | राबर्ट जे. कॉलियर कहते है सफलता छोटे छोटे कई प्रयासों का नतीजा होती है, जिन्हें कई दिनों तक बार बार दोहराया जाता है’ |

लेकिन सफलता के प्रयास में अगर असफलता मिले तो उससे परेशान न हो बल्कि असफलता को सहजता से लें | अगर आप एक के बाद एक कदम बढ़ाते रहेंगे और जरुरत के हिसाब से बदलाव करते रहेंगे, तो सफलता कदम जरुर चूमेगी |

सफलता का तीसरा नियम

अपने सपनों और इच्छाओं के रास्तें में आने वाली चुनौतियों के आगे नहीं झुकना, कोई बड़ी बात नहीं है | एक बार कोशिश करके तो देखिए परन्तु झुक गए तो आपके सपने और इच्छाएँ दम तोड़ देंगी इसलिए बस हार न माने और छोड़ना शब्द अपनी डिकशनरी से ही निकाल दें |

इस शब्द को किसी भी तरह का विकल्प न बनाएं और एक बात की जरुर गांठ बाध ले कि   जब कभी भी हार मिले तो याद रखे कि आपके काम के तरीके और काम को हार मिली है, न कि आपको | इसके अलावा  हर प्रयास में अपने काम में सुधार करें |

सफलता का चौथा नियम

हार से उबरने के लिए बदलते समय के साथ खुद में सुधार करना भी जरुरी होता है | प्रसिद्ध लेखिका सिंथिया एथिना कहती है

Loading...

रेगिस्तान में रेत व धूल भरी आंधियों की रफ्तार बड़ी तेज होती है | इन तूफानी हवाओं के दबाव से संतुलन गड़बड़ाने लगता है और हम खुद को उखड़ता हुआ महसूस करते है लेकिन हमेशा ऐसा होता नहीं है | जरुरी यह  है कि हम विश्वास रखें कि तूफान हमेशा उजाड़ने के लिए नहीं आते है यह जानते ही हम आँधियों से लड़खड़ाने की जगह संतुलन बनाने में कामयाब होने लगते है  |

कहने का तात्पर्य यह है कि विपत्ति में भी विवेक का साथ नहीं छोड़ना चाहिए क्योंकि विवेक विपत्ति के समय आगे कदम बढाने की ताकत देता है और जो सफलता के अहम् सूत्रों में से एक है |

जीवन में सफलता पाने के कुछ अन्य उपाय

  • सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे पहलें तो यह जानने की कोशिश करें कि आपका aim (उद्देश्य) क्या है ?
  • उद्देश्य निर्धारित करते समय यह बहुत जरूरी है कि आस – पास के परिवेश और परिस्थितियों को भी समझे |
  • इस संसार में ज्ञान का अथाह सागर मौजूद है लेकिन यह जरुरी नहीं कि आप अपने संपर्क में आने वाली हर चीज को अपने जीवन का हिस्सा बनाए इसलिए उद्देश्य निर्धारित करते समय यह चुनाव आपको करना है कि आप की प्राथमिकता क्या है ?
  • अगर आप अपनी हर इच्छा को पूरा करने की कोशिश करेंगे तो इससे बेचैनी बढेगी और साथ ही संसाधन और समय भी व्यर्थ हो जाएगा एवं इससे आप अपने प्राथमिक लक्ष्य से भी दूर हो जायेगे |

इसलिए जरुरी है कि सबसे पहले तो प्राथमिकता तय करें और फिर उसे पूरा करने के लिए ईमानदारी से मेहनत करने से सफलता जरुर मिलती है |

  • ऐसा हो सकता है कि लक्ष्य तक पहुँचने के रास्ते बहुत सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ें जिसमें मन में रास्ते से भटकाने वाले अनावश्यक विचार भी आ सकते है लेकिन आपको डटे रहना है और दुःख पहुँचने वाली हर बीती बातों से खुद को मुक्त रखना है |
  • आखिर में एक बहुत ही खास बात जो है वह यह है की अपनी सफलता की कहानी आप खुद लिखे जिसका हीरों कोई और नहीं बल्कि आप होंगे |

दोस्तों सफलता प्राप्ति के लिए अपनाएं गए यह छोटे – छोटे उपाय अथवा टिप्स आपको अपनी मंजिल तक जरुर पहुचाएंगे बस याद रखिए कि ध्यान लक्ष्य से भटकने न पाएं क्योंकि ध्यान का लक्ष्य से भटकना सफलता न मिलने की बहुत बड़ी वजह बन सकती है | इसलिए ध्यान हमेशा लक्ष्य पर केंद्रित रखें |

निवदेनFriends अगर आपको ‘Safalta hone ke behtarin Tips In Hindi ‘ यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

Loading...
Copy

Click Here : Amazon लाया unlimited Branded कपड़ो का sale सबसे सस्ते दामों , आज है आखिरी दिन

33 thoughts on “Safalta Ke Tips In Hindi : मात्र 4 सूत्र जीवन में सफलता हासिल करने के”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *