Health Hindi Post

गर्भावस्था में वजन कितना होना चाहिए (Pregnancy me weight kitna hona chahiye)

गर्भावस्था में वजन कितना होना चाहिए (Pregnancy me weight kitna hona chahiye)

गर्भावस्था में वजन
गर्भावस्था में वजन

Pregnancy me weight kitna hona chahiye : गर्भावस्था के दौरान अतिरिक्त Weight का काफी महत्व होता है. वैसे गर्भावस्था में माँ और बच्चे के वजन में अतिरिक्त वृद्धि किसी चमत्कार जैसा ही होती है. लिहाजा आज मै आपसे ‘प्रेगनेंसी के समय पर होने के लिए आदर्श वेट’ के बारे में वजनदार तथ्यों की चर्चा करूगीं. आशा है ये खास जानकारी आपकी ढ़ेरों समस्याओं का समाधान करने में सहायक होगी.

मेरा मानना है कि स्वस्थ गर्भधारण की इच्छा करने वाली महिलाएं खासतौर पर प्रथम बार माँ बनने जा रही महिलाएं अगर गर्भ में पलने वाले बच्चे और उसके weight की प्रगति की जानकारी अच्छी तरह से जान ले तो प्रसव (Delivery) की बहुत-सी दुश्चिंताओं के प्रति वे स्वयं को मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार कर लेती हैं. तो चलिए जानते है प्रेगनेंसी के दौरान कौन से माह में कितना वजन बढ़ना चाहिए और Delivery के समय पर होने के लिए कितना बॉडी weight अवश्य होना चाहिए.

गर्भावस्था के समय आदर्श वजन कितना होना चाहिए (Pregnancy ke Dauran ideal weight kitna hona chahiye)

Pregnancy me weight kitna hona chahiye
Pregnancy me weight kitna hona chahiye

गर्भधारण के समय कैसे खानपान से बचे कि स्वस्थ रहे जच्चा बच्चा यहाँ पढ़े

गर्भावस्था के दौरान यह जरुर खाएं Click Here

बढ़ता Weight गर्भावस्था की एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और स्वस्थ संकेत भी। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि गर्भ में बच्चे का आकार बढ़ता है और गर्भवती महिला के पेट, स्तन भी कुदरती तौर से काफी फूल जाते हैं.
शुरू के महीने यानि 1 से 3 महीने के दौरान यह Weight बहुत हल्का-फुल्का बढ़ता है, जो नोटिस में भी नहीं आता. क्योंकि बच्चे के विकास की गति अत्यंत धीमी होती है और गर्भवती को भी इन दिनों उल्टी की शिकायत रहती है.
आमतौर पर प्रेग्नेंसी के चौथे माह के प्रत्येक सप्ताह से यानी तीसरे महीने के बाद से कुछ वृद्धि वजन में  महसूस होती है. हालांकि यह बहुत कम वजन लगभग 1-2 पौंड (1 किलो) तक बढ़ता है. जोकि गर्भवती महिला के वजन में बृद्धि होती है. इस समय शिशु की लम्बाई बढ़कर 3 इंच तथा 60 ग्राम वजन हो जाता जाता है.
4 माह से 6 माह तक भ्रूण का विकास अधिक तीव्र गति से होता है, इसमें माता को अतिरिक्त पौष्टिक तत्व लेने चाहिए तथा शरीर निर्माणक तत्वों की आवश्यकताओं की पूर्ति करनी चाहिए जिससे कि प्रेग्नेंसी के सातवें महीने तक करीब 8 – 9 किलो वेट अवश्य गेन कर सके। और आखिरी के 8 सप्ताह यानि 8वें और नौवें महीने में कुल 10 – 12 किलोग्राम वजन का बढ़ना गर्भवती के लिए जरूरी होता.
जहां तक संभव हो इस दौरान हर गर्भवती स्त्री को अपने खानपान का विशेष ख्याल रखना चाहिए. गर्भकाल में मां का कुल 10 – 12 किलोग्राम तक वजन जरूर बढ़ जाना है. अंतिम 3 महीने में वजन तेजी से बढ़ सकता है जो कि नॉर्मल हैं.
इस अवधि में गर्भस्थ शिशु का विकास बड़ी तीव्र गति से होता है या यूं कहे की बच्चा बाहर निकलने की चरण को पूरा करने के लिए तैयार होता हैं. और करीब 270 दिन या या 40 सप्ताह की अवधि पूरी कर जब खुबसूरत baby जन्म लेता है तो उस समय बच्चे का वजन लगभग 2.5 – 3 किलोग्राम तक होता है.
Friends अगर आपको Pregnancy me weight kitna hona chahiye पर यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं.

Babita Singh
Hello everyone! I am Babita Singh. Welcome to my blog Khayalrakhe.com. हमारे Blog पर हमेशा उच्च गुणवत्ता वाला पोस्ट लिखा जाता है जो मेरी और मेरी टीम के गहन अध्ययन और विचार के बाद हमारे पाठकों तक पहुँचाता है, जिससे यह Blog कई वर्षों से सभी वर्ग के पाठकों को प्रेरणा दे रहा है लेकिन मेरे लिए इस मुकाम तक पहुँचना कभी आसान नहीं था. इसके पीछे...Read more.

92 thoughts on “गर्भावस्था में वजन कितना होना चाहिए (Pregnancy me weight kitna hona chahiye)

  1. Mem me 25 yr ki hun,hight 5.3 or me 10 wk pregnent hun,mera bajan 83 he,every wk mera bajan badh raha he to eskeliye me kya karu

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *