Hindi Post विविध

आत्मविश्वास बढ़ाने के 4 जबरदस्त तरीके : 4 Powerful Actions to improve your self confidence

अपने अंदर आत्मविश्वास बढ़ाने के सबसे अच्छे तरीके (Self Confidence Badhane Ke Best Tips)

Hrithik Roshan को Mountain Dew के Add में आप ने यह कहते जरुर सुना होगा कि डर के आगे जीत है  और यह सच भी है | असल जीवन में भय (Fear), शंका (Doubt) तथा झिझक ये तीनों आत्मविश्वास को पाने में सबसे बड़ी बाधा हैं और जिसका जिम्मेदार व्यक्ति स्वयं होता है |

दरअसल व्यक्ति अपने आत्मविश्वास को कमतर आकने की गलती खुद कर जाता है क्योंकि व्यक्ति को जब तक कोई रोमांचक अवसर नहीं मिलता वह उस ओर कदम नहीं बढ़ाता और  उसे यह confirm नहीं हो जाता की इस रास्ते पर चलकर मंजिल मिलेगी ही मिलेगी | ऐसे में वह शुरुआत करने से भी डरता है |

पर कुछ लोग ऐसे भी होते है जो बड़े – बड़े झटके झेलने के बाद भी सफल होने का हुनर रखते हैं | ऐसे लोगो के चेहरे पर हमेशा आत्मविश्वास झलकती रहती हैं | इनको खुशी होती है खुद को खास समझने की और यह आत्मविश्वास भी रहता है कि ये अपने कल को बेहतर बना लेंगे |

कहने का तात्पर्य यह है कि भय , झिझक और शंका एक प्रकार से confidence की कमी को दर्शाता है जो की सफलता के रास्ते में रूकावटे डालती है इसलिए आज मैं आपसे इस आर्टिकल में आत्मविश्वास को बढ़ाने के कुछ अच्छे और आसान उपायों को शेयर करने जा रही हूँ जिनसे ना केवल आपके अन्दर आत्मविश्वास बढ़ेगा बल्कि आप अपने व्यक्तिगत और वृत्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करने में भी सक्षम हो पायेंगे |

4 सबसे बेहतर उपाय अपने अंदर आत्मविश्वास लाने के लिए   

खुद से रु-ब-रु

सच तो ये है कि कामकाजी जीवन में मुश्किलें किसके सामने नहीं आती है और ये भी सच है कि सबकी मुश्किलें एक जैसी नहीं होती है पर क्या मुश्किलों से घबराकर हम जीना तो नहीं छोड़ सकते है | फिर भी अगर ऐसा है तो असल में ये घबराहट आपमें आत्मविश्वास की कमी को दर्शाता है जो कि आपकी सफलता में बाधक है |

Confidence के अभाव में सफलता हासिल करना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन भी होता है |

How to improve self confidence in hindi
How to improve self confidence

लेकिन इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता है कि जब इस प्रकार की स्थिति होती है तो कभी – कभी हम खुद को इतना हारा हुआ पाते है कि जीवन ही नीरस लगने लगता है और आम आदमी के लिए तो इन मुश्किलों से निकलना आसान भी नहीं होता है और जिसका परिणाम क्या होता है कि व्यक्ति खुद पर से विश्वास ही खो बैठता है उसे लगता है कि यह उसके बस की बात नहीं है लेकिन इन सब के बावजूद जो आत्मविश्वास के साथ इन चुनौतियों का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहता है और अपने काम को बेहतर बनाने के लिए प्रयासरत रहता है , उन्हें कामयाब होने से कोई रोक नहीं सकता |

इसी बात पर मुझे एक प्रसंग याद आ गया कि एक कंपनी में सुबह के 10 बजे जब employee आफिस पहुचे तो गेट पर एक notice board लगा था और उस पर लिखा था – “आज उस इंसान की मौत हो गई है जो आप को आगे बढ़ने से रोक रहा था | आप सब से मेरा निवेदन है कि एक एक करके अन्दर आए और उस इंसान का दर्शन कर लें |” आफिस के सभी लोग मन ही मन खुश होने लगे कि चलो अच्छा हुआ | अब हमें आगे बढने से कोई नहीं रोकेगा | सब लोग बाहर अपनी अपनी बारी का इंतजार करने लगे | गेट खुला और एक एक करके लोग अन्दर गए पर जब वापस आये तो उनके चेहरे भावशून्य थे | थोड़ी देर इंतजार के बाद एक 45 साल के कर्मचारी का नम्बर आया जो कि company में कई सालों से काम कर रहा था और उपयुक्त promotion ना पाने के कारण वह company से संतुष्ट नहीं था | इसके लिए वहाँ के लोगो को जिम्मेदार मानता था | जब वह कमरे में पंहुचा तो वहाँ कमरे के बीचों बीच एक ताबूत रखा था जिसे देखकर वह बहुत खुश हुआ कि चलो देखते है कि कौन मेरी तरक्की में बाधा था | पर जब वह ताबूत के पास गया तो देखा कि उसमें एक आदमकद शीशा रखा हुआ है जिसमें उसका स्वयं का अक्स दिखायी दे रहा है | यह देख कर वह गुस्से से आग बबूला हो गया और वह मुड़ कर जाने ही वाला था कि उसकी नजर ताबूत के दुसरे कोने पर रखे संदेश पर पड़ी जिस पर लिखा थाअपनी असफलता के लिए आप खुद जिम्मेदार है | इस पंक्ति को पढ़ते ही उस employee का अपने company के प्रति सारा गुस्सा ख़त्म हो गया क्योकि वह जान गया था कि अपनी असफलता के लिए कोई और नहीं बल्कि वह स्वयं जिम्मेदार है |

अत: यही सही समय है  अपने अन्दर झाकने का और यह कोई मुश्किल कार्य नहीं है | जरुरत है तो केवल खुद के प्रति ईमानदार होने की | इसलिए ये हमारा पहला लक्ष्य होना चाहिए कि खुद पर काम करना | तो याद रखिए अपनी समस्या का आप स्वयं ही समाधान हैं |

अपनी कोशिशों से करें प्यार

Confidence पाने का ज्यादा अच्छा तरीका ये भी हो सकता है कि आप कोशिश करना कभी भी बंद न करें क्योंकि जब हम पूरे विश्वास के साथ किसी चुनौती को स्वीकार करते है तो फिर हार – जीत के फेर में नहीं पड़ना चाहिए |

असल बात तो इसमें है कि जितनी बड़ी रुकावट हम पार करेंगे हमें उतनी ही खुशी मिलेगी | लेकिन हम संघर्ष से डरते है और असफल होने से भी | सफलता और असफलता की खाई इतनी बढ चुकी है कि हम न तो असफलता को स्वीकार करते है और न ही सफलता के लिए किए गए कोशिशों को | नतीजा यह होता है कि सफल होने पर भी वह खुशी नहीं मिलती जिसकी हमें उम्मीद होती है |

हमें खुद से यह वादा करना होगा कि चाहें कुछ भी हो जाएँ , कितनी ही बाधाएं क्यों न आये हम हार नहीं मानेंगे और कोशिश करते रहेंगे | कोशिश करने वालों के लिए श्रीकृष्ण भगवान ने भी गीता में कहा है – “फल की चिंता मत कर , कर्म ( प्रयास ) किये जा |” और यह भी बात सत्य है कि कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती है |

Don’t worry about failures, worry about the chances you miss when you don’t even try.

– Jack Canfield

रूकावटो के बीच नए रास्ते तलाशें

दार्शनिको ने भी ये मानना है अगर समस्या है तो उसका समाधान भी है | इसलिए रूकावटो से हार मान लेने में समझदारी नहीं है , समझदारी है रूकावटो के बीच नये रास्ते तलाशने में | रूकावटे अकसर नई दिशा का संकेत देती है | इसके लिए आप को अपनी शक्तियों को पहचानने की जरुरत है |

अगर आप अनजान रास्ते पर भी पूरे आत्मविश्वास के साथ आगे बढेंगे तो आप को मंजिल जरुर मिलेगी | हो सकता है कि आप को इसमे थोडा वक्त लगे पर आप को अपनी समस्या का हल जरुर मिलेगा | याद रखिये Thomas Edison भी 10,000 प्रयासों के असफ़ल होने के बाद ही Bulb का अविष्कार कर पाए थे |

अपने मन की सुनें 

हमें अपने दिल से पूछना चाहिए कि हमारा दिल चाहता क्या है ? साथ ही स्पष्ट नजरिया रखना चाहिए और खुद से प्यार करना तो एक बहुत ही अच्छा और कारगर विकल्प है आत्मविश्वास पाने के लिए | एक बार ऐसा करके तो देखिए आप पाएंगे कि जिंदगी में आत्मविश्वास फिर आ गई है |

इस बात को भी झुठलाया नहीं जा सकता कि ये पूरा जहाँ आपको कामयाब होते हुए देखना चाहता है , बस आवश्यकता है तो उसके संकेतों को समझने की |

इसलिए न हार माने न अपनों का साथ छोड़े | मैं बस इतना कहना चाहती हूँ किसी के सामने कुछ साबित करना छोड़ दें और अपना सम्मान करें | बुरा दौर हर किसी की जिंदगी में आता है लेकिन इस बुरे दौर में टूट के बिखरने से अच्छा है इसमें छिपे मौके को तलाशे | असफलताओं को अवसर के रूप में देखें और उससे सबक लें |

असफल होने का भय ही सबसे बड़ा डर है | अपने अन्दर के डर और आशंका को खत्म करके खुद को यकीन दिलाएं कि नामुमकिन कुछ भी नहीं | काम को लेकर आप जितने ज्यादा प्रेरित होंगे, आपकी मंजिल उतनी ही आप के करीब आयेगी |

एक बार जब आप को अपनी मंजिल मिल जायेगी तब आपको हारने का गम नहीं, बल्कि जितने की खुशी होगी |

तो इंतजार किस बात का जबकि आपके सामने आत्मविश्वास को पाने के इतने अच्छे उपाय है बस जरुरत है कि सबसे पहले इस सोच से बाहर आये कि आपमें आत्मविश्वास की कमी है या आप में आत्मविश्वास कभी आ ही नहीं सकता क्योंकि यह सोच आत्मविश्वास के विकास में बाधा ही उत्पन्न करेगी और कुछ नहीं |

निवदेन – Friends अगर आपको “self confidence kaise paye “ पर यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

Loading...
Copy

Loading...

7 thoughts on “आत्मविश्वास बढ़ाने के 4 जबरदस्त तरीके : 4 Powerful Actions to improve your self confidence”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *