Hindi Post विविध

जीएसटी पर निबंध : Goods and Service Tax GST Essay in hindi

Web Hosting
जब से Goods and Service Tax (GST) राज्य सभा और लोक सभा से पास हुआ है तब से newspapers और news channels पर इसी की चर्चा है | इसने मेरे सामने कुछ ऐसे सवाल खड़े कर दिए जिनका स्पष्ट होना मेरे लिए जरुरी था | पहला तो यही था कि Goods and Service Tax (GST) आखिर है क्या ? दूसरा इसका भारतीय अर्थव्यवस्था और मेरे जैसे आम भारतीय नागरिक पर क्या प्रभाव पड़ेगा ? यह ऐसे सवाल है जिनका जवाब आज भी कई लोगों को नहीं पता है |
 Goods and Service Tax (GST) in hindi
इन सवालों के जवाब के लिए मैंने अपने मित्र मोहम्मद शाहिद जो कि Indirect Taxation के जानकार है , से संपर्क किया | उनसे विचार विमर्श के बाद मुझे यह समझ में आ गया कि भारत की आज़ादी का जश्न मनाने का शायद इससे बेहतर तरीका नहीं हो सकता | मैंने GST का सरल विशलेषण करने की कोशिश की हैं ताकि यदि आपको कोई doubt हो तो वह दूर हो जाए – :

Goods and Service Tax (GST) क्या है 

Goods and Service Tax (GST) एक single indirect tax rate की व्यवस्था है | दूसरे शब्दों में कहे तो GST उत्पादन , sales और वस्तुओं और सेवाओं के उपभोग पर लगने वाला राष्ट्रीय स्तर   एक सामान्य indirect tax है | Indian government का कहना है कि GST से मुद्रास्फीति और महंगाई बढने का कोई  खतरा नहीं है |

अभी क्या होता है

– अभी हम अलग अलग सामान पर 30% से 35% excise और VAT देते है | GST में यह दर 17% से 18% रहने की उम्मीद है |
– अभी हम सेवाओं पर 15.5% service tax देते है जो कि बढकर 17% से 18% होने की उम्मीद है |

Goods and Service Tax (GST) जिन पर लागू नहीं होगा

– petrol, diesel, gas, शराब
– stamp duty
– बिजली की खपत

GST के Benefits

GST से देश को कई तरह से फ़ायदा होगे -:

1. पहला फायदा तो यह होगा कि अब एक देश , एक tax की व्यवस्था होगी | सभी indirect taxes को एक tax के अंतर्गत लाने से tax वसूली में लगने वाली लागत कम होगी |

 

2.  दूसरा स्वैच्छिक कर अनुपालन में सुधार होगा और कर का दायरा बढेगा | यह central government और state government , दोनों की बेहतर आर्थिक सेहत के लिए जरुरी है |

 

3. तीसरा फायदा, पुरे देश में एक साझा बाज़ार होगा | इसमें यह सुविधा होगी कि एक state से दूसरे state में होने वाला business local taxes से मुक्त होगा |

 

4. चौथा फायदा सकल घरेलू उत्पाद यानि GDP बढने से होगा क्योकि दायरा बढने से कर राजस्व बढेगा, transperancy बढेगी, अनुपालन में सुधार होगा और निजी निवेश बढेगा |

 

5. कारोबारियों के लिये कारोबार करना आसान हो जाएगा क्योंकि नए dealers को एक ही online आवेदन करना होगा और तीन दिन में registration हो जाएगा | कारोबारी को केवल चार return form भरने होगे जिसमे आपूर्ति, खरीद, मासिक और सालाना return शामिल है |  GST return के लिए central government और state government दोनों के लिए एक ही filing करनी होगी |

एक आम भारतीय नागरिक की दृष्टी से देखा जाये तो इसका हम पर निम्न प्रभाव पड़ेगा :

1. कई स्तर पर लगने वाले tax खत्म हो जायेगे जिससे वस्तुओं के दाम कम हो जायेगे |

 

2. सामान को एक state से दूसरे state में ले जाने की लागत में कमी आएगी |

 

3 . Black money में कमी आएगी क्योंकि GST के अंतर्गत ज्यादा दस्तावेज़ प्रस्तुत करने पड़ेगे |

 

Loading...
उम्मीद करती हूँ कि 1 April 2017 से यह लागू हो जायेगा और देश के विकास के लिए एक मील का पत्थर साबित होगा |

निवदेन – Friends अगर आपको Goods and Service Tax (GST) यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे जरुर share कीजियेगा और हाँ हमारा free email subscription जरुर ले ताकि मैं अपने future posts सीधे आपके inbox में भेज सकूं |

www.blogvarta.com

Loading...
Copy

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *